खेल-जगतदेशमध्यप्रदेश

62 वर्षीय प्राध्यापक नें हाफ मैराथन में पदक जीत कर किया अचंभित

सतना हाफ मैराथन राजस्थान के गोरधन मीना ने जीती

Realindianews.com

भोपाल। मध्य प्रदेश के सतना जिले में दादा सुखेन्द्र सिंह स्टेडियम में सतना हाफ मैराथन सम्पन्न हो गयी। यह स्पर्धा राजस्थान के गोरधन मीना ने जीती। वहीं 62 वर्ष के एक प्राध्यापक नें दस किलो मीटर मैराथन में तीसरा स्थान लाकर युवाओं पीछो छोड़ दिया। जिसकी सभी नें खुले मन से तारीफ की है। इनाम वितरण समारोह को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कहा कि खेलो इंडिया के तहत लोगो में फिटनेस के प्रति जागरुकता लाने में यह मैराथन अहम भूमिका निभायेगी। उन्होने क्षेत्र के युवाओ को आगे बढ़ाने संभाग के सभी जिलों को मिलकर एक संयुक्त मैराथन आयोजित करने की जरुरत बताई। ज्ञात हो कि स्वस्थ समाज के निर्माण में अग्रणी पं. गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास के तत्वावधान में रविवार 20 नवम्बर को सतना हाफ मैराथन का दादा सुखेन्द्र सिंह स्टेडिमय में गौरवशाली आयोजन किया गया। जिसमें मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली, गोवा, मेघालय, बिहार, उत्तराखण्ड आदि 15 राज्यों के 96 जिलों, 322 स्थानों से 2694 प्रतिभागी महिला, पुरूष तथा महत्वपूर्ण नामी धावक, खिलाड़ी, अभिनेता आदि ने मैराथन में शिरकत की। मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम, योगेश ताम्रकार महापौर, पुष्पेंद्र नाथ पाठक, डॉ. सुनीता गोदारा, डॉ. राकेश मिश्र सहित अन्य विशिष्ट लोगों ने हरी झंडी दिखाकर सुबह 7 बजे मैराथन को दादा सुखेन्द्र सिंह स्टेडियम से रवाना किया।
प्राध्यापक डॉ.घनश्याम युवा दौड़ में रहे चौथे स्थान पर
पं गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास द्वारा सतना में आज आयोजित तृतीय हाफ मैराथन में 10 किलोमीटर की युवा दौड़ में शामिल महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय के विज्ञान प्राध्यापक डॉ.घनश्याम गुप्ता चौथे स्थान पर रहे। इस उपलब्धि पर कुलपति प्रो.भरत मिश्रा सहित ग्रामोदय विश्वविद्यालय के शिक्षको, अधिकारियों, कर्मचारियों व छात्र-छात्राओं ने प्रसन्नता व्यक्त की है। 62 वर्षीय विज्ञान प्राध्यापक डॉ.घनश्याम गुप्ता ने बताया कि मुझे खुशी है कि सतना शहर में आयोजित हाफ मैराथन में 10 किलोमीटर की युवा दौड़ में मैं भी शामिल हुआ और चौथे स्थान पर रहा।
इस अवसर पर सर्व प्रथम मुख्य अतिथि मध्य प्रदेश शासन के विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम, मध्य प्रदेश शासन के मंत्री रामखेलावन पटेल खादी ग्राम उद्योग के अध्यक्ष जितेंद्र लटोरिया, सांसद गणेश सिंह, जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुष्मिता पंकज सिंह परिहार, नगर निगम सतना के महापौर योगेश ताम्रकार, मैराथन चैंपियन एवं सतना हाफ मैराथन की ब्रांड एंबेसडर डॉ सुनीता गोदारा, सेवा न्यास के अध्यक्ष डॉ राकेश मिश्रा ने पं.गणेश प्रसाद मिश्र श्रीमती शांति मिश्रा एवं भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन किया। सेवा न्यास के पदाधिकारियों आशा रावत, मालती मिश्रा, रेखा अवस्थी, डॉ. रचना मिश्रा, प्रमिला मिश्रा व न्यास कार्यकर्ताओं ने अतिथियों को अंग वस्त्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किये गये ।
यह रहे विजेता
21 किलोमीटर वर्ग में
राजस्थान के जयपुर के गोरधन मीना विजेता रहे। जबकि सीधी के मुकेश मिश्रा दूसरे और नागपुर के घनश्याम पांडुरंगा जी तीसरे नम्बर पर रहे।
10 किलोमीटर वर्ग में
इंदौर के नवीन चौहान प्रथम, भदोही के चन्दन यादव दूसरे जबकि हरियाणा के हितेश यादव तीसरे स्थान पर रहे।
अमृत दौड़ 5 किलोमीटर वर्ग में
सतना के चक्रेश कुमार यादव पहले, रत्नागिरी के स्वराज संदीप जोशी दूसरे जबकि कटनी के यश शर्मा तीसरे स्थान पर रहे।
इस मैराथन से सतना का नाम समूचे देश में प्रसिद्ध हो गया- सांसद
सतना के सांसद गणेश सिंह ने पं. गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास की इस सफल आयोजन के लिये भूरी भूरि सराहना की। गणेश सिंह के अनुसार इस मैराथन से सतना का नाम समूचे देश में और प्रसिद्ध हो गया है। उन्होंने कहा कि सेवा न्यास के ऐसे सराहनीय कार्य हम सभी को समाज कल्याण की दिशा में अनुपम प्रेरणा देते हैं। विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम जी ने कहा कि इस तरह की सफल मैराथन का नाम अब विंध्याचल मैराथन या मध्यप्रदेश हाफ मैराथन होना चाहिए।
डॉ. सुनीता गोदारा ने धावकों की जमकर की सराहना
सतना हाफ मैराथन की ब्रांड एम्बेसडर डॉ सुनीता गोदारा ने कहा कि मैराथन के जिन प्रतिभागियों ने उचित समय पर दौड़ पूरी की है वह सभी बड़े शहरों के टॉप एथलीटों के समकक्ष हैं। सभी को उज्ज्वल भविष्य की मेरी तरफ से शुभकामनाएं। इस मैराथन में पूरे शहर में स्वागत द्वार बनाकर ढोल नगाड़ों के साथ पुष्प वर्षा की गई। समस्त धावकों को पं. गणेश प्रसाद मिश्र सेवा न्यास द्वारा उत्तम आवास, भोजन, एनर्जी ड्रिंक, चाय कॉफी बिस्किट प्रदान किया गया। सतना हाफ मैराथन में विजेताओं को मेडल, ट्रैक सूट दीवार घड़ी, चेक द्वारा राशि दी गई।दोनों आयु वर्ग के प्रतिभागियों को फिट इंडिया द्वारा जारी प्रमाण पत्र समय गणना से ऑनलाइन डाउनलोड कर प्रमाण पत्र प्राप्त हो सकेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button