धर्म/ज्योतिषमध्यप्रदेश

विनोद परनामी अध्यक्ष, सत्य भूषण उपाध्यक्ष एवं मम्तेश सचिव मनोनीत

श्रीकृष्ण प्रणामी मंदिर भोपाल कार्यकारिणी समिति का सर्वसम्मति से हुआ मनोनयन

भोपाल। रियल इंडिया न्यूज, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के मध्य में स्थित श्रीकृष्ण प्रणामी मंदिर कार्यकारिणी समिति का मनोनयन सर्व सम्मति से मंदिर के महाराज पं. रूपराज जी के आशीर्वाद के साथ सम्पन्न हुआ। श्री 108 प्राणनाथ जी मंदिर पन्ना ट्रस्ट से पधारे प्रतिनिधि मंडल के साथ स्थानीय सुंदरसाथ जी के साथ सम्पन्न हुआ बैठक के बाद सर्वसम्मति से मंदिर समिति के पदाधिकारियों का मनोनयन हुआ। प्राणनाथ प्यारे के जयकारों से मंदिर प्रांगण गुंजाएमान हो गया। नवीन प्रतिनिधि मंडल नें श्रीजी का आशीर्वाद लिया। पद्मावतीपुरी धाम पन्ना जी से पधारे प्रतिनिधि मंडल से महाप्रबंधक डीबी शर्मा, प्रमोद शर्मा उपाध्यक्ष एवं सेकेट्री चन्द्र कृष्ण त्रिपाठी जी रहे। प्रतिनिधि मंडल ने सभी नवीन पदाधिकारियों को श्री जी के सामने सेवा की सपथ दिलाई। इस मौके पर भोपाल सुंदरसाथ बड़ी संख्या में मौजूद रहा। जिसमें पं. रूपराज शर्मा, पं. भीखराज शर्मा, डीके शर्मा, विनीत शर्मा, उपदेश शर्मा, राजेन्द्र शर्मा, बृजगोपाल शर्मा, सूरज परनामी, हेमंत शर्मा, नवीन शर्मा, मनीष त्रिपाठी, बृजमोहन शर्मा आदि मौजूद रहे।
विनोद परनामी पुन: अध्यक्ष का प्रभार
सेवा भावी विनोद परनामी जी को उनके सेवा भाव को देखते हुए पुन: अध्यक्ष का प्रभार सर्वसम्मति से सौंपा गया। सेवाभावी विनोद जी का मंदिर से नाता प्रारंभ से जुड़ा हुआ है। विनोद जी का पूरा परिवार हर प्रकार से महामती प्राणनाथ जी की वाणी को आत्मसात करने हुए सेवाभावी गतिविधियों में हमेशा से आगे रहता है।
मम्मतेश जी को पुन: मिला सचिव प्रभार
श्रीकृष्ण प्रमामी मंदिर भोपाल कार्य समिति के पूर्व सचिव मम्तेश शर्मा जिनकी सेवाकार्य पहचान है। मम्तेश के पिता जी परमधाम वासी राजेन्द्र शर्मा एवं माता जी परमधामवासी सुषमा शर्मा जी मंदिर की सेवा में प्रारंभ से जुड़ी रहीं। माता -पिता के मार्ग दर्शन के कारण मम्तेश शर्मा मंदिर की पताका राजधानी के अलावा प्रणामी आलम में फहरा रहे हैं। समाज को उम्मीद है कि आगे भी सुन्दरसाथ की सेवा में तत्पर रहेंगे।
रजनीश त्रिपाठी पुन: कोषाध्यक्ष का प्रभार
सेवाभावी परिवार में जन्मे रजनीश त्रिपाठी जी मंदिर की हर व्यवस्था को प्रारंभ से अंजाम देते आ रहे है। मृदुभाषी रजनीश जी का समाज में एक अलग ही पहचान है। रजनीश त्रिपाठी जी को कोषालय का कार्य उनके पूर्व के अच्छे काम को देखते हुए सौंपा गया है। सुंदरसाथ जी का आशीर्वादा हमेशा से रजनीश त्रिपाठी जी को मिलता रहा है। रजनीश जी की माता श्रीमती धनवंती जी मृदुभाषी के साथ समाजसेवा के कार्य में हमेंशा से आगे रहती हैं। इसी प्रकार रजनीश के पिताश्री पं. भीखराज त्रिपाठी जी ने अपने प्रारंभ का जीवन दूसरों की सेवा से प्रारंभ किया और इस उम्र में भी स्वास्थ्य लाभ सर्वसमाज के नौजवान हो या बूड़ा सभी को योग के माध्यम से देते आ रहे हैं।
सत्य भूषण, संदेश एवं अतुल को पहली बार मिला सेवा का मौका
सेवाभावी सत्य भूषण शर्मा जी को पहली बार मंदिर में सेवा का मौका मिला है। उनके पास अच्छा अनुभव है साथ ही समाजसेवा के क्षेत्र में अलग पहचान रखते हैं। इसी प्रकार संदेश शर्मा एवं अतुल दुबे जी नें प्रारंभ में मंदिर में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते रहे हैं। अब समाज चाहेगा कि सभी नवीन पदाधिकारी मिलकर सेवा कार्य की एक अलग अलख जगाएं और बाहर से आने वाले सुंदरसाथ जी के लिए एक अलग पहचान प्रस्तुत करें। सुंदरसाथ जी का मानना है कि मंदिर जी में होने वाली साप्ताहिक गौरी आरती जिसकी चर्चा देश-विदेश के कोने-कोने में होती थी अब पुन: वोही रौनक लेकर आएगी।
इन्होंने ली सेवा की शपथ
16 जनवरी 2022 को श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर भोपाल कार्यकारिणी सामिति का मनोनयन सम्पन्न हुआ जिसमें सर्व समित्ति से सवश्री विनोद परनामी (अध्यक्ष), सत्य भूषण शर्मा (उपाध्यक्ष), ममतेश शर्मा (सचिव), संदेश शर्मा (सह सचिव), रजनीष त्रिपाठी (कोशाध्यक्ष), एवं डॉ. अतुल दुबे (प्रबंधक )को मनोनीत किया गया । सभी ने सेवा की शपथ ली।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button