देशमध्यप्रदेशस्वस्थ-जगत

पार्वो वायरस से बीमार हो रहे अधिकतर कुत्ते

मौसम में बदलाव के साथ कुत्तों में फैल रही संक्रामक बीमारी

भोपाल,Real India News. बदलते मौसम में पार्वो के वायरस से कुत्ते तेजी से बीमार हो रहे हैं। इस कारण कुत्तों की मौत भी हो रही है। इससे एक से दूसरे कुत्ते में बीमारी फैलने की आशंका है। ऐसे में कुत्ते के पालकों को अगर लक्षण दिखे तो तत्काल इलाज कराना ही अंतिम उपाय है।
मध्य प्रदेश के सतना शहर के कृष्ण नगर स्थित पशु चिकित्सालय में बीमार कुत्तों को लेकर पहुंचने वालों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही है। वहीं जिले में घुमंतू कुत्तों की मौत भी चर्चा में है। मध्य प्रदेश सतना जिले के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. बृहस्पति भारती नें बताया कि पशुओं में मौसम में बदलाव के कारण संक्रामक बीमारियां फैलती हैं। कुत्तों में पार्वो नामक बीमारी का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। उल्टी, बुखार के कारण कुत्ते भोजन छोड़ देते हैं और कमजोरी के कारण उनकी मौत हो जाती है। समय से उपचार नहीं हुआ तो अन्य कुत्ते संक्रमित हो सकते हैं। चिकित्सक का कहना है कि पार्वो वायरस से कुत्ते बीमार हो रहे हैं। अस्पताल में प्रतिदिन 10-12 कुत्ते ऐसे पहुंच रहे हैं, जिनमें पार्वो वायरस के लक्षण हैं।
जिले में एक हजार से अधिक कुत्ते
पशु चिकित्सा विभाग के आंकड़ों पर गौर करें तो जिले में लगभग एक हजार कुत्ते पालतू हैं। इनका लोग नियमित दवा-उपचार कराते हैं। विभाग पालतू कुत्तों का पंजीकरण करता है। उनकी विशेष देखरेख होती है। वहीं, अन्य कुत्तों की संख्या पर गौर करें तो जिले में 20 हजार से अधिक घुमंतू कुत्ते हैं। ऐसे में अगर बीमारी पांव पसराती है तो बड़ी समस्या उत्पन्न हो जाएगी।
शहर में मरे पांच कुत्ते
सतना शहर के धवारी इलाके में गत दिवस एक-एक करके पांच कुत्तों की मृत्यु की जानकारी वहां के रहने वालों नें बताई है। इसमें कुत्ते धीरे-धीरे बीमार हुए और खाना छोड़ दिए। इसके बाद कमजोर होकर उनकी मौत हो गई। सभी घुमंतू थे। चिकित्सकों से बात हुई तो उन्होंने पार्वो रोग से मौत होने की आशंका व्यक्त की।
बीमारी के लक्षण
पशुओं की बिमारी के जानकार विश्राम के मुताबिक पार्वो रोग संक्रामक है। यह कुत्ते में विशेष तौर पर होती है। इन दिनों इस प्रकार के पालतू कुत्ते आ रहे हैं। अगर कुत्ता अचानक खाना छोड़ दे, उल्टी करे, गुम रहे और अक्सर बैठा रहे तो जान लीजिए कि यह पार्वो बीमारी का लक्षण है। अगर ऐसा है तो तत्काल इलाज कराएं। वहीं, अगर मौत हो जाती है तो उसे दफन कर दें। अन्यथा अन्य कुत्तों में यह संक्रमण फैल सकता है।
सफाई पर दें विशेष ध्यान
पार्वो बीमारी कुत्तों में फैलती है। यह इस प्रजाति के लिए संक्रामक बीमारी है। देखते ही देखते एक-दूसरे में लार, उल्टी से फैलता है। कभी-कभी उल्टी करते समय खून भी आ जाता है। ऐसे में तत्काल चिकित्सक को दिखाएं। अन्यथा यह दूसरे कुत्तों में फैल सकता है। इसमें सफाई बेहद जरूरी है। अगर कुत्ते का खून हाथ में लगता है तो उसको सही तरह से साफ कर लें। ऐसे में अगर कोई कुत्ता इस समय बीमार दिखे तो नजदीक के पशु अस्पताल पर टीका लगवा सकते हैं।
-मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. बृहस्पति भारती, सतना म.प्र.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button