देशधर्म/ज्योतिषमध्यप्रदेश

श्री मानसपीठ खजुरीताल आश्रम में 23 अप्रैल 2023 को होगा विराट संत सम्मेलन

14 अप्रैल 2023 से प्रारंभ होगा शताब्दी समारोह, देश के ख्यातिलब्ध संत होंगे शामिल

Realindianews.com
मध्य प्रदेश के विंध्य क्षेत्र में स्थित श्री मानसपीठ खजुरीताल आश्रम में 23 अप्रैल 2023 में विराट संत सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है। श्रीमानसपीठ खजुरीताल आश्रम में 14 अप्रैल से 23 अप्रैल 2023 तक शताब्दी समारोह का भव्य आयोजन पूर्व सांसद वशिष्ठ पीठाधीश्वर ब्रह्मर्षि रामविलास दास वेदांती जी महाराज अयोध्या के पावन सानिध्य में तुलसी पीठाधीश्वर पद्म विभूषण जगद्गुरु श्री रामभद्राचार्य जी के द्वारा राम कथा का भव्य आयोजन होगा।
खजुरीताल आश्रम विंध्य की नाभि
उक्त जानकारी देते हुए ब्रम्हर्षि रामविलास दास वेदांती जी महाराज नें बताया कि श्री मानसपीठ खजुरीताल आश्रम मध्य प्रदेश के विंध्य क्षेत्र में स्थित है जो कि विंध्य क्षेत्र की नाभि कही जाती है जहां की रामलीला का नाम पूरे भारत देश में है और वहां की सुंदर झांकी अविस्मरणीय रही है । मानसपीठ खजुरी ताल आश्रम से लगातार धार्मिक सामाजिक, आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम होते रहे हैं और मानस पीठाधीश्वर जगदगुरू श्री रामानंदाचार्य स्वामी श्री रामलला चार्य जी महाराज के अथक प्रयासों से आश्रम में साधु सेवा संत सेवा भी हो रही है। वेदांती जी महाराज नें आगे बताया कि श्री रामायण के माध्यम से समस्त जनमानस को एक सूत्र में बांधने का प्रयास रहा है एवं संस्कृत महाविद्यालय से धार्मिक शिक्षा देकर आध्यात्मिक वातावरण स्थापित किये है ।
सनातन संस्कृति की ध्वजा को भारत देश के विभिन्न राज्यों में फहराया
डॉ.राघवेश दास वेदांती जी महाराज ने बताया कि परम पूज्य स्वामी 1008 श्री रामभूषण दास जी महाराज ने श्री राम कथा रामलीला एवं संस्कृत महाविद्यालय और आयुर्वेद औषधालय के द्वारा समाज की अप्रतिम सेवा किए एवं सनातन संस्कृति की ध्वजा को भारत देश के विभिन्न राज्यों में फहराया और अध्यात्मिक ख्याति अर्जित की। उसी परंपरा को संचालित करते हुए मानस पीठाधीश्वर जगतगुरु स्वामी श्री रामललाचार्य जी महाराज ने आश्रम के 100 वर्ष पूर्ण होने पर मानसपीठ खजुरीताल में शताब्दी समारोह का आयोजन कर रहे हैं ।
शताब्दी समारोह में शामिल होगा संत समाज
डॉ.राघवेश दास वेदांती जी महाराज ने बताया कि शताब्दी समारोह कार्यक्रम में भारत के विभिन्न तीर्थों से जगद्गुरु, महामंडलेश्वर, महंत एवं धर्माचार्यों का शुभ आगमन हो रहा है। शताब्दी समारोह कार्यक्रम में विशेष रूप से पूर्व सांसद वशिष्ठ पीठाधीश्वर ब्रह्मर्षि रामविलास दास वेदांती जी महाराज अयोध्या के पावन सानिध्य में तुलसी पीठाधीश्वर पद्म विभूषण जगद्गुरु श्री रामभद्राचार्य जी के द्वारा राम कथा का भव्य आयोजन होगा एवं अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। इस पावन आयोजन में समस्त भक्तजनों से कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए आग्रह मानसपीठ खजुरी ताल के द्वारा किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button